Skip to main content

परछाई मेरी

बड़ी अजीब है यह परछाई मेरी
अकेला छोड़ देती है
जब भी कर लेता हूँ
हसीन आँखे बंद मेरी

चलती है हर घडी
हर वक़्त मेरे
कुछ बोलू इसे तो
सुनती है हर बात मेरी

न करती है सवाल
न माँगती कोई जवाब
बस ऐसी ही
ये भोली सी परछाई मेरी

छोड़ कर चले जाये
जब सब साथ मेरा
तनहा नहीं रहने देती
मुझको यह परछाई मेरी

बड़ी अजीब है यह परछाई मेरी....

समझाऊ भी तो क्या
इसको अब मैं
समजती नहीं है कोई बात
यह मासूम परछाई मेरी

ख़बर तोह सब है
इसको मेरी
पर जाने क्यों चुप
रहती है ये परछाई मेरी

समझती तो सब है
पर बस बोल
नहीं पाती है
यह बेजुबां परछाई मेरी

आखिर दिल तो मेरा
ही है इसके सीने में
इसलिये तो बस
खामोश सी रहती है ये परछाई मेरी...



Comments

Popular posts from this blog

You

Dark black
pitch black
was my life
with lots of strife.. going nowhere
not arriving anywhere
empty and cold
nothing to hold.. wasting my life
cutting veins with a knife
feeling so rejected
i was so dejected but then i saw a light
saw something that i couldn't fight
it was your eyes
without any lies.. part of me changed
it was not at all arranged
it was all alarming
coz you were so charming.. then i thought
is that you that i sought
all this time
finding you almost wasted a lifetime..

जुल्फें

उफ़्फ़ येह जुल्फें तेरी 
जब भी सवरताँ हूँ 
ये ऊलघ सी जाती है 
क्यूंकि इन में मैं घुम हो जाता हूँ |

उफ़्फ़ क्या तेरा उस दर्द को छुपाना 
वो आशुओं का रोक पाना तेरा
हो सके तो पी जाओं
बस इन्ही हसरतों में क्यू में जिये जाऊँ ||

उफ़्फ़ मार डालेगी तेरी ये जुदाई
तेरी हाथों की ये चूडियाँ
ये तेरे दिल का सुकून
ये तेरी मेरे से दूरियाँ |


Life is a lie

Every moment every second of your life,
Ends in a feeling that is totally a lie. 

You try everything to reach the absolution,
But in the end you can't find the solution.

You love then you hate,
In the end you die that's your's fate.

You cheat you ignore,
You repeat you approve.

But in the end when you realize,
Your life has just gone by.