Skip to main content

SAVE ME

I now know what i want to do
sit on an empty dark roof
count the stars
till its sunshine
i know i dont have to be alone
coz there is someone
talking to me right now
so stay with me so that
i'll never be alone
on those moonless nights
with no one within my sight
give me a reason
to open my heart right now
i want you back in my life
how can i let you go
coz you're my life

everybody hurts
but that doesn't mean
that i let you go
so just hang on
hang on with me
take your time
to be with me
im sure that
nobody feel the way
that i feel for you
coz you're the one
that saves me from the
darkness inside me
and from all the lights
that keeps me blinding
im sure that you're the one
that save me,
you're the only one
that saves me!!

Comments

Popular posts from this blog

'मैं'

टूटता हूँ बिख़र जाता हूँ
रोज़ सुबह उठकर 
फ़िर से वोही मैं
वोही 'मैं' बन जाता हूँ|

ना सोता हूँ
ना ही जाग पाता हूँ
फ़िर से सपनो में
कहीं खो सा जाता हूँ |

ना भटक़ पाता हूँ
ना मंज़िल तक पहुँच पाता हूँ
बस इन्ही अनजान राहों में
कुछ गुम सा हो जाता हूँ |

सोचना क्या है
बस यही तोह भूल जाता हूँ 
खुदही में
'खुद' को दूंढ़ नहीं पाता हूँ |


तारे

जितने आसमा में तारे है 
उतने मेरे दिल के टुकड़े ना होते 
काश वो चाँद मिल जाता 
तो रोज़ के दुखड़े ना होते |

तोड़ना था तो बस तुम बता देते
हम तो हॅसी म़ें इसे गवा देते
ना तुमको देते कोई दोष
ना खोते ख़ामखा अपना होश |

अब जब येह खता हो गयी तुमसे
ना फिर मिलना कभी हमसे
क्यूंकि जब कभी मिलोगे तुम हमसे|
इतना रुला देंगे की कभी नज़रें ना मिला सकोगे खुदसे |

आँखें

कितना समझाया कितना सुनाया
फिर भी दिल ये समझ ना पाया ।
मेरी इन् खूबसूरत आँखों को 
फिर इसने बेवजह ही इतना रुलाया ।